Header ads

» » » जौनपुर : पर्यावरण के प्रहरी मदन मोहन यादव ने वृक्षों के संरक्षण के लिए लगाई गुहार

जौनपुर : पर्यावरण के प्रहरी मदन मोहन यादव ने वृक्षों के संरक्षण के लिए लगाई गुहार


वृक्षों के मसीहा "अब तक लगा चुके हैं 1 लाख से अधिक पौधे"


जलालपुर।
स्वतंत्र सेठ
तहलका 24x7
                  क्षेत्र के डिंगुरपुर ग्राम निवासी ग्रीन ब्याय उपाधि प्राप्त व 1998 में मालवीय पर्यावरण पुरस्कार से सम्मानित मदन मोहन यादव को अब योगी राज में पेड़ो के संरक्षण के लिए दर-दर की ठोंकरे खानी पड़ रही है। श्री यादव ने बताया कि डिंगुरपुर ग्राम में मदन मोहन द्वारा दो दशक पूर्व बखरी (कच्चा मकान) के गिर जाने वाली जगह पर सैकडों शीशम का पौध रोपित किया गया था जो वर्तमान में बड़े हो गये हैं, पारिवारिक भूमि के बगल में निवास करने वाला जीवन व सरोज आये दिन अपनी गायों को वृक्षों में बांधकर पेड़ो को क्षति पहुंचाते हैं जिससे कई वृक्ष के जड़ो में मिट्टी का अभाव होने के कारण गिर कर सूख गये तथा जीवधन अपने मकान के पास के वृक्ष को काटकर क्षतिग्रस्त भी करता रहता है। मदन मोहन यादव ने जीवधन को समझाने का प्रयास किये भी किया परन्तु वह नही मान रहा है उल्टे धमकाते हुये कहता है कि मैं सारे पेड़ो को काटकर जला दूंगा।

उन्होने बताया कि अभी कुछ दिन पहले ही मेरे द्वारा रोपित सैकड़ो वृक्षों के बाग में आग लगाकर पेड़ो को भारी हानि पहुंचायी गयी है। उन्होने बताया एक तरफ प्रधानमंत्री द्वारा पर्यावरण को स्वच्छ बनाने के लिए लोगों को अधिक से अधिक पौध रोपण के लिए जागरूक किया जा रहा है। वही दूसरी तरफ जीवधन जैसे लोगों द्वारा वृक्षों को हानि पहुंचाकर नष्ट किया जा रहा है। उन्होने बताया कि इसकी सूचना जलालपुर थाने पर कई बार मेरे द्वारा लिखित रूप से दिया जा चुका है। मगर कोई भी कार्यवाही अभी तक नही हुई। जबकि गौरव की बात है कि मदन मोहन यादव अब तक लगभग 1 लाख पौधे अपने हाथों से रोपित कर चुके है ऐसे में अब ग्रीन ब्याय का दुखड़ा कोई सुनने वाला नही है। 

About तहलका 24x7

रवि शंकर.
«
Next
Newer Post
»
Previous
Older Post

No comments:

Leave a Reply